Janani Suraksha Yojana Registration 2022: JSY Apply Online Form

[ad_1]

Janani Suraksha Yojana 2022 | Janani Suraksha Yojana in Hindi | Janani Suraksha Yojana Toll Free Number | Janani Suraksha Apply online | Janani Suraksha Registration Online | JSY Registration 2022 | JSY Application Form 2022 | जननी सुरक्षा योजना पंजीकरण 2022

जननी शिशु सुरक्षा योजना के अंतर्गत गर्भवती महिला की प्रसूति होने पर माता और बच्चे (जच्चा और बच्चा) दोनों के प्रयाप्त पोषण के लिए सीधे जच्चा के बैंक खाते में भेजे जायेंगे. अगर आंकड़ों की माने तो हर साल गर्भावस्था में होने वाली परेशानियों या पोषण पूरा न होने से या बिमारियों की वजह से साल में 56000 से ज्यादा मौत हो जाती हैं. यह आंकडे बहुत ही भयानक हैं.

Janani Suraksha Yojana Registration 2022

इसीलिए केंद्र सरकार ने गर्भवती महिलाओं की स्थिति में सुधर लाने के लिए जननी सुरक्षा योजना को शुरू किया गया है. और डिलीवरी होने पर आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी. यह योजना गर्भवती महिलाओं और उनके बच्चे का पोषण उपलब्ध कराने के हिसाब से उपलब्ध कराई जाती है. और इसके तहत १ साल में 10 मिलियन महिलाओं को मदद मिल रही है.

क्या है जननी सुरक्षा योजना (JSY) Janani Suraksha Yojana सीधे राष्ट्रीय स्वास्थ्य  मिशन के तहत चलाया गया कार्यक्रम है योजना के अंतर्गत गर्भवती महिलाओं के संस्थागत और सुरक्षित प्रसव को बढ़ावा देना है और इसके लिए आर्थिक मदद दी जाती है.

जननी सुरक्षा योजना
जननी सुरक्षा योजना

Janani Suraksha Yojana Online Apply 2022

क्या है जननी सुरक्षा योजना (JSY) Janani Suraksha Yojana सीधे राष्ट्रीय स्वास्थ्य  मिशन के तहत चलाया गया कार्यक्रम है योजना के अंतर्गत गर्भवती महिलाओं के संस्थागत और सुरक्षित प्रसव को बढ़ावा देना है और इसके लिए आर्थिक मदद दी जाती है.

योजना जननी सुरक्षा योजना
मिशन राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन
पंजीकरण Janani Suraksha Yojana Registration 2022
आधिकारिक पोर्टल nhrm.gov.in
वित्तीय सहायता ₹ 6000/-
कार्यक्रम जननी शिशु सुरक्षा कार्यक्रम
हेल्पलाइन नंबर Janani Suraksha Helpline no
लाभार्थी जच्चा और बच्चा

What is JSY Janani Suraksha Yojana Kya?

योजना के तहत साल में लगभग १३ लाख से अधिक नवजात शिशु जान गवा देते हैं. अगर गर्भवती महिलाओं को समय पर पूरा पोषण मिल जाए तो ये दार न्यूनतम स्तर पर पहुँच सकती है.

मुफ्त सिलाई मशीन योजना फॉर्म

जननी सुरक्षा योजना के लाभ क्या हैं?

  • योजना का मुख्य उद्देश्य महिलाओं के स्वास्थ्य में सुधार करना है
  • जच्चा और बच्चा को आर्थिक सहायता देना जिससे पोषण पूरा हो सके.
  • और टीकाकरण पर भी ध्यान दिया जाता है.
  • पंजीकरण अस्पताल में ही कराना होता है.

जननी सुरक्षा योजना पंजीकरण 2022

योजना के लिए जरूरी दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • वोटर कार्ड
  • जच्चा कार्ड और बच्चा कार्ड
  • सरकारी अस्पताल द्वारा डिलीवरी कार्ड
  • महिला का बैंक खता नंबर
  • आवास प्रमाण पत्र

और इस योजना में आशा – मान्यता प्राप्त सामाजिक स्वास्थ्य कार्यकर्ता – का महत्वपूर्ण कार्य है. क्यूंकि आशा वर्कर देश के पिछड़े इलाकों में गरीब परिवारों और महिलाओं के लिए महत्वपूर्ण कड़ी हैं. ये महिलाओं को सरकार से जोड़ने वाली कड़ी हैं, यही उनकी भूमिका है. ये आशा वर्कर महिलाओं को पहचान करने के साथ साथ अस्पताल में भर्ती करवाने और जरूरी सुविधा प्रदान करवाना और सम्बंधित योजनाओं के लाभ पहुँचाने में मदद करती हैं.

राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन

This scheme under National Health Mission to provide basic benefits to mother and newly born child. योजना के तहत महिला और बच्चों के स्वास्थ्य में सुधार लाने के लिए दवाएं, पोषण, इलाज, जरूरी सहायता और सुविधा प्रदान की जानी है.

महिलाओं और नवजात शिशुओं के लिए स्कीम शुरू की गयी है.

इस कार्यक्रम में मिलने वाली सुविधाएँ –

  • योजना में जननी और शिशु लाभान्वित होंगे
  • स्वास्थ्य सेवाएँ, पोषण, दवाइयां प्रदान की जाएँगी, जरूरत पड़ने पर खून भी दिया जायेगा
  • सामान्य प्रजनन के मामले में ३ दिन के लिए, और सी-सेक्शन के मामले में ७ दिन तक मुफ्त पोषण आहार दिया जायेगा.
  • इस कार्यक्रम से जननी और नवजात की मृत्यु दर में कमी लाना और पूरा पोषण प्रदान करना है.

जननी शिशु सुरक्षा टोल फ्री नंबर

गर्भवती महिला योजना PMMVY

Dear friends, जननी शिशु सुरक्षा स्कीम के लिए आपको आवेदन करना है तो आपको अपने क्षेत्र की आशा वर्कर से संपर्क करना होगा. वो आपको पूरी प्रिक्रिया समझा कर आपका कार्ड बनवा देंगे. इसके लिए आपको आधार कार्ड, आवास प्रमाण पत्र को साथ में रखें. और अधिक जानकारी के लिए आधिकारिक पोर्टल पर ऑनलाइन रहें

पंजीकरण के लिए कृपया जेएसवाई के आधिकारिक पोर्टल पर जाएं

उसके बाद राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (NHM) का आधिकारिक पेज नए टैब में खुल जाएगा।

जननी शिशु सुरक्षा योजना राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन का हिस्सा है – जननी शिशु सुरक्षा योजना बिहार झारखंड हरियाणा राजस्थान पंजाब हिमाचल प्रदेश हिमाचल प्रदेश, उत्तर प्रदेश यूपी, उत्तराखंड, जम्मू कश्मीर, लद्दाख, पश्चिम बंगाल पश्चिम बंगाल, तेलंगाना टीएस, तमिलनाडु टीएन, आंध्र प्रदेश एपी, केरल, महाराष्ट्र, गुजरात, मध्य प्रदेश एमपी, छत्तीसगढ़ छत्तीसगढ़, गोवा, सिक्किम, असम, मेघालय, त्रिपुरा, अरुणाचल प्रदेश, मिजोरम, मणिपुर, नागालैंड।

[ad_2]